Bageshwar Dham Big News: एक भक्त ने बागेश्वर बाबा से कहा आज अपना ही पर्चा बनाइए धीरेंद्र शास्त्री ने दिया जवाब
Bageshwar Dham Big News: एक भक्त ने बागेश्वर बाबा से कहा आज अपना ही पर्चा बनाइए धीरेंद्र शास्त्री ने दिया जवाब

Bageshwar Dham Big News: एक भक्त ने बागेश्वर बाबा से कहा आज अपना ही पर्चा बनाइए धीरेंद्र शास्त्री ने दिया जवाब

Bageshwar Dham Big News: एक भक्त ने बागेश्वर बाबा से कहा आज अपना ही पर्चा बनाइए धीरेंद्र शास्त्री ने दिया जवाब 

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के रहने वाले बाबा बागेश्वर धाम सरकार के पुजारी धीरेन्द्र शास्त्री काफी लंबे अरसे से सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रहे हैं।

महाराज धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री अपना दरबार लगा कर देश विदेश के लोगो की क्या समस्या है बिना पूछे पहले से ही जान जाते हैं और उसे अपने पर्चे में लिख लेते हैं पर्चे में वही लिखा रहता है जो जिनकी समस्या रहती है।

महाराज धीरेन्द्र शास्त्री बाबा बागेश्वर धाम सरकार की कृपा से लोगो की समस्या का समाधान करते है। लंदन, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों से बाबा बागेश्वर धाम आकर अपनी अर्जी लगवाते है। और हनुमान जी की कृपा से धीरेंद्र महाराज उनकी समस्या को हल कर देते हैं, उत्तर प्रदेश के नागपुर में किसी ने धीरेंदे शास्त्री को चुनौती दे दी और कहा कि ये अंधकार फैला रहे है तब से मीडिया में धीरेन्द्र शास्त्री को लेकर काफी सियासी चर्चाएं होने लगी और यह साबित हो गया कि बाबा बागेश्वर धाम अंधकार नही फैला रहे है अब धीरेंद्र शास्त्री हिदुत्व को लेकर काफ़ी ज्यादा सक्रिय हो गए है।

बाबा बागेश्वर धाम सरकार के पीठाधीश्वर से पूछ लिया गया ये सवाल:

बाबा बागेश्वर धाम सरकार के पुजारी पण्डित धीरेंद देश के विभिन्न हिस्सों में अपना दरबार लगा कर कथा सुनाते हैं और लोगो की समस्या भी सुनते है अभी हाल ही में बिहार राज्य में उन्होने अपना दरबार लगाया था जिसमे हजारों की संख्या में भीड़ एकत्र हुई थी।

बाबा लोगो की अर्जी लगा कर उनकी समस्या का सुन रहे थे तभी एक भक्त ने बाबा से कह दिया महाराज आज दूसरो की पर्ची न बनाकर एक अपनी पर्ची बना दीजिए।
बाबा बागेश्वर धाम सरकार ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया आप सब की समस्या हमारी ही समस्या है और आपकी पर्ची समझो हमारी ही पर्ची है। ऐसा उन्होने जवाब में कहा है।

बाबा बागेश्वर धाम सरकार के पुजारी के जीवन की कुछ अद्भुत लम्हे

बाबा धीरेंद्र शास्त्री मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के रहने वाले है उनका बचपन काफ़ी गरीबी में गुजरा था। धीरेन्द्र शास्त्री पण्डित होने के कारण लोगे के यहां जाकर पूजा पाठ कराते थे और भिक्षा लेते थे। धीरेंद्र शास्त्री के एक परम मित्र है शेख मुबारक इनके साथ धीरेंद्र शास्त्री रोज पन्ना जाकर हीरा खोजते थे एक बार महराज जी शेख मुबारक और एक साथी के साथ पन्ना हीरा खोजने के लिए जा रहे थे तभी रास्ते में एक्सीडेंट हो जाता है

और बाइक से तीनो लोग गिर जाते हैं इस एक्सीडेंट में धीरेंद्र शास्त्री और शेख मुबारक को कुछ नहीं होता है लेकीन जो तीसरा आदमी बैठा था उसको चोट लग जाती है पण्डित महाराज अपने कथा के दौरान अपनी इस छोटी सी घटना का जिक्र करते हैं।

धीरेंद्र शास्त्री के बहन की शादी के लिए शेख मुबारक आर्थिक रूप से मदद भी करते हैं और इनके बचपन के मित्र भी है।

इसे भी पढ़ें

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती 2023  Read More

Leave a Reply